मशहूर तमिल एक्टर का कैंसर से निधन Featured

मुंबई: मशहूर तमिल एक्टर और एंकर आनंद कन्नन का 48 साल की उम्र में निधन हो गया है. सोमवार को उन्होंने आखिरी सांस ली. बता दें आनंद कन्नन कई समय से कैंसर से जूझ रहे थे और उनका इलाज चल रहा था. ये जानकारी आनंद के करीबी दोस्त और निर्देशक वेंकट प्रभु ने सोशल मीडिया पर दी. एक्टर की तस्वीर शेयर करते हुए वेंकट ने लिखा- ‘एक बेहतरीन दोस्त, एक बेहतरीन इंसान अब नहीं रह, मेरी गहरी संवेदनाएं‘.फिल्मकार वेंकट प्रभु ने उनके साथ सरोजा फिल्म में काम किया था. खबर सामने ने के बाद से तमिल फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर है.

आनंद 1990 के दशक के फेमस एक्टर थे. उन्होंने कई तमिल शो भी होस्ट किए हैं. उन्होंने करियर की शुरुआत होस्ट के तौर पर की थी. इसके बाद सिंगापुर के एक म्यूजिक चैनल के साथ वीडियो जॉकी के तौर पर काम किया. आनंद ने ‘अधिसाया उलगम’, ‘मुल्लुम मालारम’ और वेंकट प्रभु की फिल्म ‘सरोजा’ में भी दमदार काम किया था, जिसे हमेशा याद किया जाता है. आनंद के चले जाने के बाद उनके फैंस और कई सितारों ने शोक जताया है. अपनी एक्टिंग से फैंस के दिलों में राज करने वाले एक्टर आनंद की मौत से उनके फैंस ही नहीं उनके साथ काम कर चुके स्टार्स भी सदमे में है और उन सभी ने शोक जाहिर किया है.

एक्टर से नेता बनीं गायत्री रघुराम ने भी आनंद की मृत्यु पर शोक जताया है. साथ ही एक्टर अशोक कुमार ने भी पोस्ट शेयर कर लिखा आनंद कन्नन हमेशा उसी पॉजिटिव अप्रोच के साथ हमारे बीच रहेंगे, जो उन्होंने हमेशा व्यक्त की थी. भगवान उनकी आत्मा को शांती दे. परिवार और करीबी प्रियजनों को इस दुख का सामना करने की ताकत दे. सोशल मीडिया पर आनंद कन्नन के प्रशंसक भी उनकी मृत्यु पर शोक संवेदनाएं भेज रहे हैं. कई फैंस उनकी पुरानी फोटोज भी शेयर कर रहे हैं और अपने चहेते एक्टर को श्रद्धांजलि दे रहे हैं. आनंद की सोशल मीडिया पर काफी अच्छी फैन फॉलोइंग थी.

Rate this item
(0 votes)
Last modified on Tuesday, 17 August 2021 16:58

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Samvad A
Samvad B

Post Gallery

रायपुर में आज शराबबंदी: इन क्षेत्रों में आवागमन पर रहेगा प्रतिबंध

13 जिलों में मौसम को लेकर भविष्यवाणी, आज फिर तेज आंधी तूफान का अलर्ट

राम नवमी: जानिए भगवान राम के जन्म एवं राम के नाम पर कैसे पड़ा रामनवमी नाम? जानिए इसका इतिहास और महत्व

व्यापम ने प्रवेश परीक्षाओं की तारीखों में बदलाव किया, जानिए वजह

पेट्रोल-डीजल के दामों में गिरावट, 93 रुपये प्रति लीटर पहुंचा पेट्रोल!

रायपुर के माता मंदिरों में हवन की गूंज, चैत्र नवरात्रि की अष्टमी पर भक्तों की भारी भीड़

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के लिए एमआई-17 हेलिकॉप्टर से मतदान दल रवाना

बीजापुर में नक्सलियों का बंद: जिला मुख्यालय एवं शहर की दुकानें खुली, ग्रामीण क्षेत्रों में दहशत

राजधानी में मौसम का मिजाज बदला, धूप के बाद छाए काले बादल और तेज बारिश