50 और अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेनें देश में दौड़ेंगी: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव Featured

बोलता गांव डेस्क।।

नई दिल्ली। देश में वंदे भारत एक्सप्रेस की सफलता के बाद अब भारत सरकार ने अमृत भारत ट्रेनों की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है। इसका एलान खुद रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने किया है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने अमृत भारत ट्रेन का एक वीडियो भी साझा किया है। उन्होंने लिखा- अमृत भारत ट्रेन को बड़ी सफलता मिली है। इसके चलते 50 अमृत भारत ट्रेनों को मंजूरी दे दी गई है। अंतरिम बजट से पहले अश्विनी वैष्णव ने कहा था कि हर साल 300 से 400 अमृत भारत एक्सप्रेस चलाई जाएंगी। अब इस बड़ी घोषणा से उस पर मोहर लग गई है। बता दें कि देश की पहली अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेन का उद्घाटन 30 दिसंबर, 2023 को पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया था।
आधुनिक सुविधाओं से लैस है अमृत भारत
अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेनों में यात्री कम किराए में बेहतर सफर कर सकेंगे। दे भारत की तरह डिजाइन की गई अमृत भारत एक पुल-पुश ट्रेन है। इसमें आगे और पीछे दो इंजन हैं। इस वजह से यह आसानी से तेज रफ्तार हासिल कर लेती है। साथ ही झटके भी कम लगते हैं। इस वजह से जहां पर भी कोई कर्व या ब्रिज जाता है, उस पर काफी टाइम बचेगा। इसकी अधिकतम रफ्तार 130 किमी प्रति घंटा रखी गई है। पुशपुल टेक्नोलॉजी का मतलब ये है कि इस ट्रेन में दो इंजन हैं एक आगे-दूसरा पीछे।

ट्रेन में होंगी ये सुविधाएं
अमृत भारत ट्रेनों में आधुनिक मॉड्यूलर टॉयलेट भी हैं। अमृत भारत में कई मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट और मोबाइल होल्डर भी लगे हैं। CCTV कैमरों से लैस ट्रेन की बोगियां, अत्याधुनिक शौचालय, बोगियों में सेंसर वाले वाटर टैप के साथ गॉर्ड और मेट्रो की तर्ज पर अनाउंसमेंट सिस्टम के इंतजाम इस नई ट्रेन में हैं। टॉयलेट के डिजाइन में भी बहुत सारे बदलाव किए गए हैं। खास तौर पर पानी का कम से कम इस्तेमाल हो इसकी व्यवस्था भी की गई है। वहीं, फिजिकली चैलेंज्ड लोगों के लिए टॉयलेट के स्पेस को बड़ा किया गया है।

 

वहीं, अगर सुविधा की बात करें तो इसमें पैसेंजर की सुविधा के लिए ऊपर वाली सीट पर क्यूशन कवर लगाया गया है। इस ट्रेन में 22 कोच होंगे जिनमें लगभग 1500 लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। बता दें, इस ट्रेन में 8 जनरल कोच होंगे और 14 स्लीपर कोच इसमें होंगे। वंदे भारत की तर्ज पर अमृत भारत की ड्राइवर सीट को भी डिजाइन किया गया है। इसमें कवच सिस्टम लगाया गया है। इस वजह से अगर सामने से कोई ट्रेन आ रही है तो पहले से कवच के जरिए ड्राइवर को पता चल जाएगा।

रेलवे स्टॉक कर रहे शानदार प्रदर्शन
वंदे भारत और अमृत भारत की सफलता पर सवार होकर पिछले कुछ समय में रेलवे की विभिन्न कंपनियां शेयर बाजार पर अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं। इनमें टीटागढ़ रेल सिस्टम्स, इरकॉन इंटरनेशनल, आईएआरएफसी, रेल विकास निगम, बीईएमएल, रेलटेल, कंटेनर कॉर्प ऑफ इंडिया, आरआईटीईएस और आईआरसीटीसी शामिल हैं. इन्होंने निवेशकों की झोलियां भर दी हैं।

आगे वाला इंजन गाड़ी को पुल करने का काम करेगा तो वहीं दूसरा इंजन उसको पुश करेगा। इसका इंटीरियर भी बिलकुल नया है। ​अमृत भारत नॉन एसी ट्रेन है जबकि वंदे भारत एसी ट्रेन होती है। अमृत भारत में स्लीपर कोच होते हैं जबकि वंदे भारत सिटिंग ट्रेन है। ट्रेन में सामान रखने की पर्याप्त जगह और सीटें आरामदायक हैं।

Rate this item
(0 votes)

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Samvad A
Samvad B

Post Gallery

रायपुर में आज शराबबंदी: इन क्षेत्रों में आवागमन पर रहेगा प्रतिबंध

13 जिलों में मौसम को लेकर भविष्यवाणी, आज फिर तेज आंधी तूफान का अलर्ट

राम नवमी: जानिए भगवान राम के जन्म एवं राम के नाम पर कैसे पड़ा रामनवमी नाम? जानिए इसका इतिहास और महत्व

व्यापम ने प्रवेश परीक्षाओं की तारीखों में बदलाव किया, जानिए वजह

पेट्रोल-डीजल के दामों में गिरावट, 93 रुपये प्रति लीटर पहुंचा पेट्रोल!

रायपुर के माता मंदिरों में हवन की गूंज, चैत्र नवरात्रि की अष्टमी पर भक्तों की भारी भीड़

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के लिए एमआई-17 हेलिकॉप्टर से मतदान दल रवाना

बीजापुर में नक्सलियों का बंद: जिला मुख्यालय एवं शहर की दुकानें खुली, ग्रामीण क्षेत्रों में दहशत

राजधानी में मौसम का मिजाज बदला, धूप के बाद छाए काले बादल और तेज बारिश